योगी के शपथग्रहण समारोह में PM मोदी, शीर्ष भाजपा नेता, उद्योगपति सहित भी लेंगे संत हिस्सा

punjabkesari.in Thursday, Mar 24, 2022 - 05:30 PM (IST)

लखनऊ: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, शीर्ष भाजपा नेता, उद्योगपति, संत शुक्रवार को दूसरे कार्यकाल के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने जा रहे योगी आदित्यनाथ के विशाल शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेंगे। भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सूत्रों के अनुसार गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री इस कार्यक्रम में पहुंचेंगे। रिलायंस इंडस्ट्रीज के प्रमुख मुकेश अंबानी और देश के 60 से अधिक प्रमुख उद्योगपतियों को भी आमंत्रित किया गया। यहां 'भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी इकाना स्टेडियम' में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल शपथ दिलाएंगी। इस समारोह को भव्य स्वरूप देने के लिए पिछले कई दिनों से जोर शोर से तैयारी चल रही है। 'भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी इकाना स्टेडियम' को जाने वाली सड़कों को रोशनी से सजाया गया है।

मुख्य सड़क पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह एवं आदित्यनाथ के कटआउट लगाये गये हैं। भाजपा नीत गठबंधन ने हाल के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में 403 में से 273 सीटें जीतीं। मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (सपा) की अगुवाई वाले गठबंधन को 125 सीटें मिलीं। भाजपा प्रदेश महामंत्री जे पी एस राठौर ने बताया, “गणमान्य व्यक्तियों को निमंत्रण पार्टी और राज्य सरकार दोनों स्तरों पर भेजा जा रहा है। शपथ ग्रहण समारोह में सभी भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों को आमंत्रित किया गया है। राज्य में विपक्षी नेताओं को भी न्योता भेजा गया है।” योगी ने व्यक्तिगत रूप से अयोध्या, मथुरा और वाराणसी के लोगों सहित 50 से अधिक संतों को निमंत्रण भेजा है।

विश्व हिंदू परिषद के राज्य स्तरीय पदाधिकारी दिनेश शंकर ने बताया, “श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के वरिष्ठ सदस्यों के साथ प्रमुख संतों को भी समारोह में आमंत्रित किया गया है।'' पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव और उनके सहयोगी राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के जयंत चौधरी ने समारोह में शामिल नहीं होने की घोषणा की है। योग गुरु बाबा रामदेव, हालिया बॉलीवुड फिल्म ‘ कश्मीर फाइल्स' के निर्माताओं विवेक अग्निहोत्री एवं पल्लवी जोशी सहित फिल्मी जगत के लोगों, चुनाव के दौरान अभियान में शामिल विभिन्न राज्यों के भाजपा पार्टी कार्यकर्ताओं सहित प्रमुख हस्तियों के इस समारोह में आने की संभावना है।

स्टेडियम के उत्तरी छोर में गणमान्य व्यक्तियों का मंच तैयार किया गया है। मुख्य मंच से ठीक पहले एक छोटा सा क्षेत्र मीडिया को आवंटित किया गया है। वर्ष 2016 में पूरा हुए इस स्टेडियम ने 2019 और फरवरी 2022 के बीच पांच अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों की मेजबानी की है। स्टेडियम में 50,000 दर्शकों के बैठने की क्षमता है। शुरुआत में इसे इकाना क्रिकेट स्टेडियम कहा जाता था, लेकिन योगी आदित्यनाथ सरकार द्वारा इसका नाम 2018 में पूर्व प्रधान मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रखा गया। क्रिकेट स्टेडियम की चारों पिचों पर जहां बैरिकेडिंग की गई है, वहीं पूरे मैदान में बैठने की व्यवस्था की गई है। शहीद पथ के अंडरपास को भी रंगा जा रहा है। समारोह शाम चार बजे से शुरू होने की संभावना है।

योगी आदित्यनाथ ने अपने चुनाव अभियान की शुरुआत दिसंबर 2021 में स्टेडियम से की, जब उन्होंने आदर्श आचार संहिता लागू होने से ठीक पहले एक भव्य कार्यक्रम में छात्रों को टैबलेट और मोबाइल फोन वितरित किए। पिछली बार 2017 में भारतीय जनता पार्टी की पूर्ण बहुमत से सरकार बनने के बाद गोरखपुर से पांच बार सांसद रहे योगी आदित्यनाथ को विधायक दल का नेता चुना गया और बतौर मुख्यमंत्री उन्‍होंने अपने मंत्रिमंडलीय सहयोगियों के साथ कांशीराम स्मृति उपवन में आयोजित समारोह में शपथ ली थी। उत्तर प्रदेश पुलिस ने आयोजन स्थल और उसके आसपास सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए हैं। अपर पुलिस महानिदेशक (कानून और व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने बताया, “उत्तर प्रदेश पुलिस के करीब 8000 कर्मियों, प्रांतीय सशस्त्र कांस्टेबुलरी (पीएसी) के साथ-साथ विशेष कार्य बल (एसटीएफ), आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) और अन्य जैसी विशेष इकाइयों को सुरक्षा के लिए तैनात किया गया है।'' 

उन्होंने कहा कि सभी संवेदनशील स्थानों पर एटीएस कमांडो के साथ कार्यक्रम स्थल तक पहुंच को सख्ती से नियंत्रित किया जाएगा तथा कार्यक्रम स्थल में प्रवेश करने से पहले प्रत्येक आगंतुक की स्क्रीनिंग की जाएगी, हर एंट्री प्वाइंट पर डोर फ्रेम मेटल डिटेक्टर और हैंड हेल्ड मेटल डिटेक्टर लगाए जा रहे हैं। पुलिस ने आयोजन स्थल और उसके आसपास सीसीटीवी कैमरों का एक नेटवर्क भी लगाया है। नियंत्रण कक्ष में वरिष्ठ अधिकारियों की सीधी निगरानी में सीसीटीवी कैमरों की फीड की लाइव मॉनिटरिंग की जाएगी। कुमार ने कहा कि ड्रोन कैमरों को भी स्टैंडबाय में रखा जाएगा। अधिकारी के अनुसार कार्यक्रम स्थल पर तीन स्तरीय पुलिस सुरक्षा व्यवस्था की जाएगी। लखनऊ पुलिस आयुक्तालय ने अन्य मार्गों से स्टेडियम की ओर आम यातायात को निर्देशित करते हुए मार्ग परिवर्तन की भी व्यवस्था की है और परीक्षार्थियों की सुविधा के लिए भी विशेष इंतजाम किए गए हैं। 


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tamanna Bhardwaj

Related News

Recommended News

static