अखिलेश की मांग- झांसी में 2 बहनों के जहर खाने की घटना में सरकारी प्रश्रय की निष्पक्ष जांच हो

punjabkesari.in Sunday, Mar 27, 2022 - 07:53 PM (IST)

लखनऊ/झांसी: सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने रविवार को महिला सुरक्षा के मुद्दे पर बिना नाम लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार को घेरते हुए कहा कि झांसी में 2 बहनों के जहर खाने की घटना की निष्पक्ष जांच करवाई जाए। समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने इस घटना में लिप्त अपराधियों-अधिकारियों को सरकारी प्रश्रय देने की निष्पक्ष जांच करवाने की मांग की। हालांकि झांसी के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने संबंधित थाना प्रभारी को लापरवाही के आरोप में निलंबित कर दिया है।

रविवार को सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने एक प्रकाशित खबर ट्वीट की जिसका शीर्ष था कि ‘छेड़छाड़ से दुखी 2 बहनों ने खा लिया जहर, पुलिस नहीं कर रही थी कार्रवाई।’ अखिलेश ने आगे ट्वीट किया कि झांसी में पुलिस की तरफ से कोई सुनवाई न होने से हताश होकर, छेड़खानी से परेशान शिकायतकर्त्ता 2 बहनों का जहर खाने पर मजबूर होना दुखद है। हालांकि अखिलेश यादव के ट्वीट के बाद ट्विटर से ही सफाई देते हुए झांसी पुलिस ने कहा कि जिले के सदर बाजार क्षेत्र में 2 महिलाओं के बीच में निर्माणाधीन मकान में पानी के छिड़काव को लेकर विवाद हुआ था। पुलिस के मुताबिक इसके बाद दो युवतियों द्वारा छेड़खानी का आरोप लगाते हुए जहरीला पदार्थ खाने के प्रयास का मामला सामने आया जिसका संज्ञान लेते हुए पीड़ितों से तत्काल संपर्क किया गया।

पुलिस के अनुसार मामला पंजीकृत कर आरोपी और उसकी मां को नामजद किया गया। झांसी से मिली खबर के अनुसार पुलिस अधीक्षक झांसी (नगर) विवेक त्रिपाठी ने बताया कि घटना दो दिन पुरानी है और लड़कियां पूरी तरह स्वस्थ हैं। जांच के दौरान पाया गया कि उन लड़कियों का अपने पड़ोसी राहुल से मकान निर्माण संबंधी काफी पुराना घरेलू विवाद चल रहा है। उन्होंने बताया कि यथोचित कार्रवाई न करने पर थानाध्यक्ष सदर बाजार जेपी यादव को निलंबित कर दिया गया है और संबंधित के खिलाफ विभागीय जांच के आदेश दिये गये हैं। पुलिस ने बताया कि चिकित्सकों के मुताबिक बच्चियों की हालत सामान्य है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Mamta Yadav

Related News

Recommended News

static