बदायूं की घटना की उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के अधीन जांच हो: कांग्रेस

1/6/2021 7:00:08 PM

नयी दिल्ली/ लखनऊ: कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में एक महिला की कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार के बाद हत्या किए जाने के मामले को लेकर बुधवार को राज्य की भाजपा सरकार पर निशाना साधा है।  उन्होंने का कि उच्च न्यायालय के किसी वर्तमान न्यायाधीश के अधीन इस मामले की जांच होनी चाहिए। पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने आरोप लगाया कि यूपी में कानून व्यवस्थ पटरी से उतर गई है। उन्होंने कहा कि उन्नाव, हाथरस की घटनाओं की तरह बदायूं में भी पुलिस और प्रशासन विफल रहा है तथा आरोपियों को बचाने का प्रयास कर रहा है। यह बहुत गंभीर विषय है। उन्होंने आरोप लगाया, च्च्योगी आदित्यनाथ सरकार महिलाओं की सुरक्षा को लेकर गंभीर नहीं है। अपराधियों में किसी तरह का खौफ नहीं है।

उन्होंने कहा कि इसकी जांच होनी चाहिए कि मुख्य आरोपी अब तक फरार क्यों है? क्या भाजपा के लोग उसे बचा रहे हैं?'' उन्होंने कहा, हमारी मांग है कि इस मामले में 24 घंटे के भीतर मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी की जाए। त्वरित अदालत में मुकदमा चलाया जाए और दोषियों को सजा दी जाए। पूरे मामले की जांच उच्च न्यायालय के वर्तमान न्यायाधीश के अधीन करवाई जाए। पीड़ित परिवार को कानूनी मदद के साथ 50 लाख रुपये की आर्थिक मदद दी जाए।

गौरतलब है कि बदायूं के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने बुधवार को बताया कि गत रविवार को उघैती थाना क्षेत्र के एक गांव में मंदिर गयी 50 वर्षीय एक महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उन्होंने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में महिला के साथ बलात्कार की पुष्टि हुई है और उसके गुप्तांग में चोट के निशान तथा पैर की हड्डी टूटी पाई गई है।
 


Ramkesh

Related News