सरकारी हैण्डपम्प से पानी भरना दलित परिवार को पड़ा मंहगा, दबंगों ने मां-बेटे की बेरहमी से की पिटाई

6/10/2019 1:03:54 PM

कौशांबीः पारंपरिक सामाजिक ढांचे के अंदर तो दलितों के साथ अन्यायपूर्ण व्यवहार की कहानी सदियों पुरानी है, लेकिन 21वीं सदी में भी लोग इससे अछूते नहीं है। ऐसा ही एक मामला कौशांबी से सामने आया है। यहां सरकारी हैण्डपम्प से पानी भरना एक दलित परिवार को मंहगा पड़ गया है। छुआछूत का आरोप लगाते हुए दबंगों ने दलित मासूम और उसकी मां की बेरहमी से पिटाई की है।

इतना ही नहीं आरोप है कि जब पीड़ित महिला मामले की शिकायत लेकर थाने पहुंची तो इंस्पेक्टर ने उसे भला बुरा कह कर थाने से भगा दिया। जिसके बाद पीड़ित महिला ने एसपी से मिलकर इंसाफ की गुहार लगाई है। मामला कौशांबी जिले के लोध पुरवा गांव का है। यहां दलित बच्चा सरकारी हैण्डपम्प पर पानी भरने गया तो दबंगो ने उस पर छुआछूत का आरोप लगाते हुए पिटाई कर दी। बेटे को पिटता देख उसकी मां ने जब विरोध किया तो बेखौफ दबंगों ने दलित महिला को भी पीटा। जिसके बाद पीड़ित महिला मामले की शिकायत लेकर थाने पहुंची तो पुलिस ने उसे डांटकर थाने से भगा दिया।

थाने से दुत्कारे जाने के बाद जब पीड़िता ने एसपी से मिलकर न्याय की गुहार लगाई तो कौशांबी थाने की पुलिस ने उसे फर्जी मुकदमे में फंसाने की नापाक कोशिश की। आरोप है कि पुलिस ने पहले तो दलित महिला को थाने में बुलाकर उस पर समझौता का दबाव बनाया। जब महिला ने समझौता करने से मना कर दिया तो पुलिस ने उसके घर में रख थोड़ा बहुत महुवा बरामद कर कच्ची शराब के आरोप में फर्जी मुकदमे में फंसाने की नापाक कोशिश की। फिलहाल मामला मीडिया में आने के बाद एसपी प्रदीप गुप्ता ने सर्किल ऑफिसर को मामले की जांच सौंपते हुए कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। 

 

 

 

 

 


Ruby